Amazing health benefits of dhanurasana। धनुरासन के फायदे

Amazing health benefits of dhanurasana

धनुरासन के लाभ

एक ओर जहां इंसान तकनीक के क्षेत्र में लगातार विकास करते जा रहा है वही इस विकास के साथ साथ कई प्राकृतिक संसाधनों का विनाश और दोहन भी होते जा रहा है।आज हम आने आसपास देखे तो ऊँचे ऊँचे बिल्डिंग, मॉल, सुपर बाजार दिख ही जाएंगे, ऐसे में एक स्वस्थ्य जीवन जीने के लिए आवश्यक हरे भरे वातावरण की शुद्ध हवा हमे कैसे कहाँ से मिलेगी। इसके बिना हमारे स्वास्थ्य पर प्रतिकूल असर पड़ता जा रहा है। काम की व्यस्तता के कारण व्यायाम, जिम, या कसरत कर पाना भी दूभर हो जा रहा है। ऐसे में हमारी संस्कृति, और प्राचीन सभ्यता से हमे जो अनमोल धरोहर मिली है हमे उसका इस्तेमाल करना चाहिए। हम बात कर रहे है योगासन की। जी हां, आप अपने घर, ऑफिस, या छत में इसे आसानी से कर सकते है। बस थोड़े से समय और दृढ़ निश्चय से आप स्वस्थ जीवन के अनुभव को महसूस कर सकते है। आज हम बात करेंगे धनुरासन की जिसे bow pose भी कहते है। जो आपके कई शारीरक समस्याओं को एक ही साथ सुलझा सकता है। इसके साथ ही benefits of dhanurasana के बारे में भी आपको बताएंगे।


● What is dhanurasana धनुरासन क्या है

• धनुरासन करने के लिए पहले आप किसी खुले, या हवादार कमरे का चयन करें।
• अब एक चटाई बिछा कर उसमे आप पेट के बल लेट जाएं
• इसके बाद अपने दोनों पैरों को घुटने से मोड़कर ऊपर की ओर करते जाए और और अपने दोनों हाथों से पैरों को एड़ी के ऊपरी हिस्से की ओर कस कर पकड़ लें।
• इसके साथ ही आप अपने सिर वाले भाग को छाती तक ऊपर की ओर उठाने का प्रयास करें,प्रारम्भ में यह थोड़ी मुश्किल लगेगी लेकिन बाद में अभ्यास से यह आसान हो जाएगी।
• अब श्वास लेते वक्त छाती को ऊपर की ओर उठाये और पैरों को हाथों से थोड़ा खींचने की कोशिस करें।
• श्वास छोड़ते वक्त छाती थोड़ी नीचे आयेगी और हाथों से पैरों को थोड़ा ढीला पकड़ें।
• इस तरह इस प्रक्रिया को दुहराते रहें।
• 8-10 बार इसे दुहराने के बाद एक एक पैर को आहिस्ता से छोड़ कर जमीन में रखते जाए और थोड़ा विश्राम लें।

● precaution before dhanurasana धनुरासन करते समय क्या सावधानी बरतें

• यदि आपको पेट मे किसी तरह की दर्द हो तो इस को नही करें।
• पेट मे अल्सर, हर्निया, या किसी तरह की अन्य बीमारी का इलाज चल रहा हो तब इसे करने से बचें।
• पेट मे किसी तरह का ऑपरेशन, या रीढ़ की हड्डी में कोई दर्द या परेशानी हो तो इस आसन को नही करें।
• गर्भावस्था में इसे करना मना है।
• यदि आप इस आसन को पहली बार कर रहे है तो प्रारंभ के दिनों में इसे थोड़ी थोड़ी देर ही करें, वरना इससे आपको कमर में दर्द, अथवा पेट मे नस खिंचाव जैसे स्थिति का सामना करना पड़ सकता है।

● What are the benefits of dhanurasana धनुरासन के फायदे

• धनुरासन से हमारे किडनी और लिवर के कार्यप्रणाली में सुधार आता है, और इनमे किसी तरह की परेशानी होने पर उससे आराम मिलता है।

• धनुरासन से शरीर के हड्डियों में जॉइंट्स वाले स्थान पर आराम मिलता है। किसी तरह की अकड़न होने पर वह भी खत्म होती जाती है।

• यदि आप किसी तरह के ऑफिस जॉब करते है तो इस आसन से आपको रीढ़ के हड्डी में दर्द से आराम मिल सकता है।

• इस आसन के निरंतर अभ्यास से आपको मानसिक और शारीरक रूप से स्फूर्ति का अहसास होगा जिससे बुद्धि में भी तीव्रता आती है।

• इस आसन के द्वारा अस्थमा जैसे श्वास रोग का भी निदान हो सकता है। इसके अभ्यास से फेफड़ों में वायु भरने की क्षमता में भी वृद्धि होती है।

• धनुरासन के द्वारा पेट संबंधित समस्याओं का निदान भी किया जा सकता है। अपच, गैस, कब्ज जैसी समस्या को इसके प्रतिदिन करने से छुटकारा पाया जा सकता है।

• इस आसन के द्वारा मसल्स को अकड़न से बचाया जा सकता है। इससे हाथ पैर की सक्रियता बढ़ती है।

• इस आसन के नियमित दुहराव से आप अपने पेट के निचले भाग और जांघो के आसपास के भाग से वसा के जमाव को कम कर सकते है।किसी भी योगासन को करने से पूर्व कुछ देर के लिए बॉडी स्ट्रेचिंग जरूर करें, इससे मांसपेशियां सक्रिय होती है।
●और पढें :- टीबी की बीमारी में भूलकर भी नही खाये इन 5 चीज़ों को।
●और पढें :- जंक फूड को खाने से होने वाले ये गंभीर बीमारी जिनसे आप अनजान है अभी तक।
●और पढें :- सामान्य दही और ग्रीक दही में क्या फर्क है, देखिए
एकाएक योगासन करना मांसपेशियों में खिंचाव का कारण बन सकता है। इस तरह धनुरासन के अभ्यास से होने वाले फायदे (benefits of dhanurasana) के बारे में हमने आपको बताने का प्रयास किया। किसी भी तरह का सवाल हो तो आप हमे नीचे कमेंट बॉक्स में लिख सकते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button